सावन मेला वैवाहिक परिचय सम्मेलन।
मन मान ले तो फिर कहना ही क्या! और मन मान गया तो फिर बचा ही क्या!
मन से मान लिया तो मुश्किल भी आसान लगती है और पराए भी अपने बन जाते हैं।

इसी मन की चाहत यानि पराए को अपना बनाने की चाहत करते हुए सामाजिक सरोकारों की आपकी संस्था रौनियार वैश्य सभा दिल्ली (पंजी.) महिला सशक्तिकरण को मजबूती प्रदान करते हुए अपनी महिला विंग द्वारा सावन मेला 2017 का आयोजन कर रही है। मातृशक्ति द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में वैवाहिक कुरीतियों और अड़चनों को दूर करने हेतू अपने समाज के लड़के लड़कियों के लिए वैवाहिक परिचय सम्मेलन का भी आयोजन किया जा रहा है। साथ ही साथ अपने समाज के उन बच्चों को सम्मानित भी किया जाएगा जिन्होंने मन से यह मान लिया था कि हर मुश्किल आसान कर लूंगा और उन्होंने अपने पढ़ाई के क्षेत्र में विशेष स्थान पाया है।

सर्व वैश्य एकता को मजबूती प्रदान करने और पराए को भी अपना बनाने के सिद्धांत को अपनाते हुए पिछले दिनों दिल्ली में पार्षदों के चुनाव में जीत हासिल करने वाले उन “वैश्य पार्षदों” को भी सम्मान करने का कार्यक्रम है।
दोस्तों, हर छोटी छोटी खुशियों के पीछे भागते भागते हम इतना थक जाते हैं कि हमें अपने हिस्से की बड़ी खुशियां नजर नहीं आती।
तो आइए अपने घर की “लक्ष्मी/दुर्गा/सरस्वती” द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में बढ़ चढ़कर भाग लें और अपने घर की महिला सदस्यों के मन के मान को बढ़ाएं, बड़ी खुशियां पाएं….
विशेष:- इस सावन मेला में अपने महिलाओं द्वारा उनके हाथ के हूनर को प्रदर्शित करने हेतु विभिन्न तरह का स्टाल भी लगाया गया है।
कार्यक्रम स्थल:- द क्रिस्टल, लक्ष्मी नगर, दिल्ली (नजदीक निर्माण विहार मेट्रो स्टेशन पिलर नं 70)समय :- 10 बजे से 6अगस्त रविवार।
राजीव रंजन गुप्ता, मुख्य संयोजक, रौनियार वैश्य सभा, दिल्ली। ःअनुभवी आंखें न्यूज ब्यूरो टीम, दिल्ली।

loading...